{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

कबीर सिंह का गाना 'बेखयाली' – सचेत टंडन का प्यार, जुदाई का सम्मोहित करनेवाला प्रेम गीत


सचेत-परंपरा द्वारा संगीतबद्ध इस गाने के बोल इरशाद कामिल ने लिखे हैं।

Shriram Iyengar

गिटार की धुन, भावनाओं के बहाव को रचते बोल और बेहतरीन गायकी का ये गीत कबीर सिंह फ़िल्म के म्यूज़िक अल्बम का पहला गाना है। संदीप रेड्डी वंगा द्वारा निर्देशित यह फ़िल्म २१ जून को प्रदर्शित हो रही है।

सचेत टंडन ने इस गीत को गाया है। शाहिद कपूर के कबीर सिंह ने अपने प्यार को खो दिया है। उससे आये अकेलेपन में वो खुद को बरबाद करते जा रहा है। कबीर सिंह ने खोये हुए प्रेमिका की भूमिका कियारा आडवाणी ने निभाई है।

अपने प्यार को याद करते हुए असल ज़िंदगी में कबीर सुबह सुबह किसी वाइन शॉप के सामने बैठा उसके खुलने का इंतज़ार कर रहा है। अपने आप को बरबाद करने की प्रक्रिया की ये शुरुवात यहाँ देखने मिलती है। ब्रेकअप के बाद की कबीर सिंह की ज़िंदगी इस गाने में नज़र आती है।

शुरुवात से ही ये गाना आप की पकड़ लेना शुरू करता है। सचेत टंडन और परंपरा ठाकुर की जोड़ी ने अपने संगीत द्वारा एक बेहद खुबसुरत और मन को पकड़ लेनेवाला गीत सामने लाया है। यह एक रोमैंटिक रॉक गाना है जिसके बोल भी आपको प्रभावित करते हैं। सोलो गिटार की धुन भी काफ़ी प्रभावी रूप से इस्तेमाल की गई है। कल्याण बरुआ का इलेक्ट्रिक गिटार गाने को अपेक्षित उठाव देता है।

इरशाद कामिल के बोल इस गाने की खासियत हैं। भावनाओं से भरपूर और साथ ही प्रतीकात्मक शैली से लिखा गया ये गाना किरदार के शारीरिक और भावनात्मक पतन को दर्शाता है। पर ये विरोधाभास इस गाने की खासियत भी है और इसी लिए इसे सुनना एक अलग अनुभव भी। गाने के अंत में संगीत की लय और रिदम बढ़ते हुए एक चरम पर पहुँचते हैं।

कबीर सिंह संदीप रेड्डी वंगा की तेलुगु फ़िल्म अर्जुन रेड्डी (२०१५) का हिंदी रीमेक है। शाहिद कपूर और कियारा आडवाणी इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। फ़िल्म २१ जून को प्रदर्शित हो रही है।

Related topics

Song review