{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

गायक-संगीतकार हार्डी संधू '83 फ़िल्म में बनेंगे तेज़ गेंदबाज़ मदन लाल

Read in: English | Marathi


हार्डी संधू ने इससे पूर्व प्रोफेशनल क्रिकेट खेला है और एक बार मदन लाल की कोचिंग में क्रिकेट की शिक्षा भी हासिल की है।

Our Correspondent

गायक व संगीतकार हार्डी संधू कबीर ख़ाँ की फ़िल्म '83 में पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज़ मदन लाल की भूमिका के लिए चुने गए हैं।

ये उनका अभिनय क्षेत्र में पहला कदम है। यह फ़िल्म भारतीय क्रिकेट टीम की १९८३ की पहली क्रिकेट विश्वकप जीत पर आधारित है।

रणवीर सिंह इस फ़िल्म में पूर्व भारतीय कप्तान और तेज़ गेंदबाज़ कपिल देव की भूमिका निभा रहे हैं।

संधू अंडर-१९ क्रिकेटर रह चुके हैं और रणजी ट्रॉफी भी खेल चुके हैं। संयोगतः इससे पूर्व उन्होंने मदन लाल से क्रिकेट कोचिंग प्राप्त की थी। "तब वे मेरे कोच थे। मेरी कास्टिंग के बारे में मैंने उनसे बात की है और एक-दो दिन में मैं उनसे मिलूंगा," संधूने अधिकृत निवेदन में कहा।

"अपने किरदार को बेहतर समझने के लिए हार्डी संधू मदन लाल के विडिओ बड़ी स्क्रीन पर चलाएंगे और उनके हाव भाव और हरकतों को पकड़ने का प्रयास करेंगे," निर्माताओं द्वारा जारी अधिकृत निवेदन में कहा गया।

एमी विर्कने हार्डी संधू के नाम की सिफ़ारिश की थी। एमी फ़िल्म में बलविंदर सिंग संधू की भूमिका निभा रहे हैं। "एमी और टीम से जुड़े एक और कोचने मेरे नाम की सिफ़ारिश की थी। मैं अंडर-१९ और रणजी ट्रॉफी क्रिकेट खेल चूका हूँ। कबीर सरने मुझे तैयारी के लिए सात दिन दिए थे, उसके बाद वे अंतिम निर्णय लेने वाले थे," हार्डी संधू ने कहा।

मदन लाल ने १९८३ विश्वकप के वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ हुए अंतिम मैच में गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी दोनों में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। विवियन रिचर्ड्स के महत्वपूर्ण विकेट के साथ साथ उन्होंने दो और विकेट्स चटकाए थे। अपनी बल्लेबाज़ी के दौरान उन्होंने निचले क्रम में आकर महत्वपूर्ण १७ रनो का योगदान दिया, जिनमें एक छक्का भी शामिल था।

Related topics