{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

डीएमके, एनसीपी ने चुनाव आयोग से की मांग, पीएम नरेंद्र मोदी फ़िल्म के प्रदर्शन पर लगाए रोक


भारत के विद्यमान प्रधानमंत्री के जीवन पर आधारित यह बायोपिक ५ अप्रैल को प्रदर्शित हो रही है।  

Shriram Iyengar

ओमंग कुमार निर्देशित फ़िल्म पीएम नरेंद्र मोदी के ट्रेलर लॉंच के बाद कुछ ही दिनों में ये खबरे आ रही है के तमिलनाडु के प्रमुख राजनैतिक पक्ष द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (डीएमके) ने चुनाव आयोग से फ़िल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग की है।

द हिन्दू अखबार की खबर के अनुसार तमिलनाडु के पोलाची जिले के डीएमके की इंजिनीअरिंग शाखा के अरसू बुपति ने चुनाव आयोग से मांग की है के फ़िल्म के प्रदर्शन पर सार्वजानिक चुनाव के सात चरण समाप्त होने तक रोक लगा दी जाये।

पुणे मिरर अख़बार की खबर के अनुसार राष्टवादी कांग्रेस पक्ष (एनसीपी) ने भी जिला निर्वाचन अधिकारी के पास फ़िल्म के प्रदर्शन पर आक्षेप लिया है।

खबर के अनुसार एनसीपी के सांस्कृतिक तथा साहित्य शाखा के अध्यक्ष बाबासाहेब पाटिल ने कहा, "ये एक बायोपिक है और इससे मतदाताओं को प्रभावित करने की कोशिश की जा रही है। हमने आयोग को इस बात की सूचना दी है क्यूंकि ये आचार संहिता का उल्लंघन है।"

यह फ़िल्म इससे पूर्व पहले चरण, याने के ११ अप्रैल, के सार्वजनिक मतदान के एक दिन बाद १२ अप्रैल को प्रदर्शित हो रही थी। पर लोगों की मांग के कारण को दर्शाते हुए इसके प्रदर्शन की तारीख बदलकर ५ अप्रैल की गयी।

इन शिकायतों के पूर्व सिनेस्तान ने चुनाव आयोग से इस संबंध में बात की थी के क्या इस फ़िल्म के प्रदर्शन से आचार संहिता का उल्लंघन होता है। इसके उत्तर में हमसे कहा गया था, "जब तक हम शिकायत नहीं देखते या किस बात पर आक्षेप लिया जा रहा है यह नहीं समझते, हम कुछ नहीं कह सकते।"

ओमंग कुमार द्वारा निर्देशित पीएम नरेंद्र मोदी फ़िल्म नरेंद्र मोदी के बचपन से लेकर उनके २०१४ लोकसभा चुनाव के सफर को दर्शाता है जिसमे वो देश के पंतप्रधान बने।

फ़िल्म में विवेक आनंद ओबेरॉय मुख्य भूमिका निभा रहे हैं तथा उनके साथ फ़िल्म में बमन ईरानी, मनोज जोशी और सुरेश ओबेरॉय भी अहम भूमिका में नज़र आएंगे। पीएम नरेंद्र मोदी फ़िलहाल ५ अप्रैल को प्रदर्शित हो रही है।

Related topics