{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

नोटबुक गाना 'नै लगदा' – श्रीनगर की वादियों में गूंजता विरह गीत


ज़हीर इक़बाल हताश प्रेमी के रूप में सच्चे लग रहे हैं तथा प्रनूतन बहल स्क्रीन पर जच रही हैं।

Mayur Lookhar

पाकिस्तान के महान गायक नुसरत फ़तेह अली ख़ाँ के 'तेरे बिन नहीं लगदा' के कई भारतीय वर्जन्स हम देख चुके हैं। आगामी फ़िल्म नोटबुक का गाना 'नै लगदा' इस गाने का रीमेक नहीं है बल्कि सिर्फ़ उसका शीर्षक पुराने गाने से मेल खाता है। फ़िल्म का निर्माण सलमान ख़ाँने किया है तथा फ़िल्म में ज़हीर इक़बाल और प्रनूतन बहल मुख्य भूमिका निभा रहे हैं।

अक्षय त्रिपाठीने गाने के ताज़ा बोल लिखे हैं पर उनका मुख्य भाव वही है। 'नै लगदा' का संगीत और गायकी अच्छी है। पाश्चिमात्य और शास्त्रीय वाद्यों के मिश्रणने गाने के प्रभाव को बढ़ाया है।

संगीतकार विशाल मिश्राने ही इस गाने को गाया है। उनकी आवाज़ में आवश्यक गहराई है और अंतरे के बोल को उन्होंने खूबीसे गाया है।

असीस कौर का नाम सह गायिका के रूप में दिया गया है, पर इस विडिओ में हमें उनकी आवाज़ सुनाई नहीं देती। उनकी आवाज़ के लिए शायद हमें गाने के सम्पूर्ण ऑडियो ट्रैक का इंतज़ार करना होगा।

एक सुखद रोमैंटिक गाने के लिए बस भावुकता की आवश्यकता होती है। यहाँ ज़हीर हताश प्रेमी के रूप में सच्चे लग रहे हैं तथा प्रनूतन बहल भी स्क्रीन पर जच रही हैं।

इस गाने की तुलना भले ही नुसरत फ़तेह अली ख़ाँ के गाने से नहीं की जा सकती, पर विशाल मिश्र के 'नै लगदा' गाने की अपनी अलग पहचान ज़रूर है।

नोटबुक २९ मार्च को प्रदर्शित हो रही है। गाना यहाँ देखें।

Related topics

Song review