{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

कलंक के सपने को सबसे पहले यश जोहर ने देखा था, कहते हैं करण जोहर


निर्माता करण जोहर बताते हैं के कैसे कुछ वर्ष पहले फ़िल्म की कास्ट तक तय हो चुकी थी, पर फिर भी यह फ़िल्म शुरू नहीं हो पायी।

फोटो - शटरबग्ज़ इमेजेस

Mayur Lookhar

धर्मा प्रॉडक्शन्स की फ़िल्म कलंक का टीज़र मंगलवार को मुंबई में एक समारोह में जारी किया गया। निर्माता करण जोहर के लिए यह एक खास पल था क्यूंकि इस फ़िल्म का सपना सर्व प्रथम उनके पिता यश जोहर ने कुछ दशकों पहले देखा था।

"आज हामरे लिए ये खास मौका है। धर्मा के पास ये कहानी कई वर्षों से थी। मुझे लगता है २००३ में हम इस कहानी को लेकर शूट करने के लिए तैयार थे। स्टार्स को भी चुन लिया था, पर किसी कारण से यह फ़िल्म तब शुरू नहीं हो पायी," करण ने कहा।

धर्मा प्रॉडक्शन्स के संस्थापक तथा करण के पिता यश जोहर के २००४ में गुज़र जाने के बाद प्रॉडक्शन हाऊस को बड़ा झटका लगा। "कभी ख़ुशी कभी ग़म (२००१) के बाद मैं इस कहानी को निर्देशित करने के लिए तैयार था। पर २००४ में मेरे पिता का देहांत हुआ। मैंने मेरा आधार खो दिया और इसी लिए मैं यह फ़िल्म नहीं कर पाया," करण ने बताया।

करीब १५ वर्ष बाद करण अब इस सपने को अभिषेक वर्मन के साथ साकार कर रहे हैं।

वर्मन को ये फ़िल्म निर्देशित करने के लिए लाना आसान नहीं था।

"अभिषेक वर्मन धर्मा के सबसे अच्छे टैलेंट में से एक हैं। हमें लगा की इस कहानी के लिए वही सबसे बेहतर होंगे। हमें उन्हें मनाना पड़ा क्योंकि वे आश्वस्त नहीं थे के वे इस फ़िल्म को निभा पायेंगे या नहीं। ये उनकी दूसरी फ़िल्म है। हमने कहानी में और सुधार किए और हम इसे लेकर तैयार हैं। कलंक धर्मा की अब तक की सबसे बड़ी फ़िल्म है," उन्होंने कहा।

कलंक के स्टार कलाकारों में वरुण धवन, आलिया भट्ट, आदित्य रॉय कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, संजय दत्त और माधुरी दीक्षित नेने शामिल हैं। १९४० के दशक के स्वतत्रंता पूर्व समय में बसी ये कहानी एक पीरियड कॉस्च्यूम फ़िल्म है। फ़िल्म १७ अप्रैल को प्रदर्शित होगी।

Related topics