{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

संजय दत्त ने हैद्राबाद में भुज – द प्राइड ऑफ़ इंडिया की शूटिंग शुरू की


यह फ़िल्म उन ३०० औरतों की कहानी है जिन्होंने १९७१ में माधापुर, गुजरात, में भारतीय वायु सेना की मदद करते हुए एक रात में ख़राब हुई हवाई पट्टी को फिर से बना दिया था।

फोटो - टी सीरीज़ / ट्विटर

Our Correspondent

संजय दत्त ने २४ जून से अपनी आगामी फ़िल्म भुज – द प्राइड ऑफ़ इंडिया (२०२०) की शूटिंग शुरू की। फ़िल्म की शूटिंग हैद्राबाद के प्रसिद्ध रामोजी फ़िल्मसिटी में हो रही है।

इस मल्टी स्टारर फ़िल्म में अजय देवगन, सोनाक्षी सिन्हा, परिणीति चोपड़ा, राणा दग्गुबती, एमी विर्क सहित और कई कलाकार काम कर रहे हैं।

१९७१ के भारत-पाकिस्तान युद्ध की पार्श्वभूमि में इस फ़िल्म की कहानी बसी है। माधापुर, गुजरात, के ३०० औरतों ने भारतीय वायुसेना की मदद करते हुए ख़राब हुई हवाई पट्टी की एक रात में फिर से बना दिया था। इसी ऐतिहासिक घटना पर ये फ़िल्म आधारित है।

सोनाक्षी सिन्हा इन दृढ़निश्चयी महिलाओं की प्रमुख सुंदरबेन जेठा माधारपरया बनी हैं, जो के एक सामाजिक कार्यकर्ता और किसान है। कहा जा रहा है के संजय दत्त रणछोड़दास स्वाभाई रावरी की भूमिका निभा रहे हैं, जो के एक पागी है। पागी वो होता है जो सिर्फ़ पैरों के निशान से किसी का लिंग, ऊंचाई और वज़न बता सकता है। उनका किरदार इस युद्ध में मददगार साबित होता है।

अपनी पिछली फ़िल्म कलंक (२०१९) के प्रमोशन्स के दौरान सोनाक्षी ने इस फ़िल्म और अपने किरदार के बारे में बताया था। "मुझे ये किरदार ही अपने आप में बहुत मज़बूत लगता है। उन्होंने एक रात में पूरी हवाई पट्टी बना दी ताकि हवाई जहाज़ वहाँ उतर पाए। ये एक ऐसी महिला है जिसने ३०० महिलाओं को एकत्रित किया और उन्हें हवाई पट्टी बनाने के लिए मनाया, जब की हर तरफ बमबारी हो रही थी," उन्होंने कहा था।

यह फ़िल्म लेखक-निर्देशक अभिषेक दुधैया की पहली फ़िल्म है। इससे पूर्व उन्होंने २००३ में हिंदी टेलीविजन धारावाहिक एहसास के कुछ एपिसोड्स निर्देशित किए थे।

टी-सीरीज़ और सिलेक्ट मिडिया होल्डिंग्ज़ एलएलपी द्वारा निर्मित भुज – द प्राइड ऑफ़ इंडिया १४ अगस्त २०२० को प्रदर्शित होगी।

Related topics