{ Page-Title / Story-Title }

News English (India)

नोबलमेन ट्रेलर – अली हाजी कर रहे हैं दादागिरी का सामना


वंदना कटारिया की  निर्देशकीय फ़िल्म में बोर्डिंग स्कूल की दादागिरी के विषय को केंद्रित किया गया है।

Sonal Pandya

नोबलमेन ट्रेलर के पहले दृश्य में शय (अली हाजी) को रोज झेलने पड़ रहे भयानक दादागिरी की वास्तविकता से हम रूबरू होते हैं। उसके क्लासमेट्स उसे रात को जगाते हैं, उसके मुँह में छोटी गेंद डालते हैं ताकि वो आवाज़ ना कर सके, और उसे ज़बरन ले जाते हैं।

इस दादागिरी की वजह क्या है? क्लास के मशहूर और ताकतवर छात्र चाहते हैं के शय स्कूल के नाटक द मर्चेंट ऑफ़ वेनिस से अपना नाम हटा दे। शय मना करता है और ये दादागिरी ऐसे ही शुरू रहती है। जैसे के ट्रेलर से ये पता चल रहा है, दोनों पक्षों के लिए ये सुखद अनुभव नहीं रहता।

नोबलमेन में कुणाल कपूर ड्रामा शिक्षक के रूप में नज़र आ रहे हैं, जो छात्रों को कला के क्षेत्र के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। पर ये ट्रेलर और फ़िल्म भी पूरी तरह से अली हाजी के कंधो पर निर्भर है, जिन्होंने अपने किरदार की उलझन और मुश्किलों को प्रभावी रूप से उजागर किया है।

शय की माँ की भूमिका में अभिनेत्री सोनी राज़दान नज़र आ रही हैं।

कई फ़िल्म फेस्टिवल्स में चर्चा में रही ये फ़िल्म २८ जून को प्रदर्शित हो रही है। ट्रेलर यहाँ देखें।

Related topics

Trailer review