{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

पानीपत में मंत्र मुग्ध बनेंगे नजीब-उद-दौलाह


मशहूर अभिनेता और टीवी होस्ट मंत्र मुग्ध को आशुतोष गोवारिकर की पीरियड फ़िल्म के लिए कास्ट किया गया है। मंत्र मुग्ध कहते हैं उनके करिअर का ये सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है।

Mayur Lookhar

मशहूर अभिनेता, आरजे और टीवी होस्ट मंत्र मुग्ध को आशुतोष गोवारिकर की पीरियड फ़िल्म पानीपत के लिए कास्ट किया गया है।

मंत्र, जिनका असली नाम पूरणजीत दासगुप्ता है, नजीब-उद-दौलाह का किरदार निभाएंगे।

फ़िल्म के बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाज़ी हो सकती है, पर मंत्र ने इस बड़े प्रोजेक्ट का हिस्सा बनने पर ख़ुशी ज़ाहिर की।

“मेरे जीवन का ये सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है। आशुतोष गोवारिकर आप को किसी भूमिका के लिए पूछें ये किसीभी सम्मान से कम नहीं। उनको धन्यवाद देने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं,” मंत्र ने सिनेस्तान से बात करते हुए कहा।

इस भूमिका के लिए मंत्र का चुनाव कैसे किया गया इस सवाल पर सुनीता गोवारिकर ने अपने निवेदन में कहा, "नजीब-उद-दौलाह पानीपत की लड़ाई का एक महत्वपूर्ण किरदार है। वो एक रोहिल्ला यूसफज़ाई पश्तून था, जिसे राजनीती की कमाल की समझ थी। इस किरदार के लिए हमें ऐसे कलाकार की आवश्यकता थी जो ना सिर्फ़ इस किरदार की तरह दिखे बल्कि इसे निभाने की काबिलियत रखे। जब हम मंत्रसे मिले, हमें उसी क्षण पता चल गया के वो इस भूमिका के लिए योग्य है। वो बहुत अच्छा कलाकार है और हमें ख़ुशी है के वो हमारे साथ जुड़ा है।"

आशुतोष गोवारिकर की यह फ़िल्म पानीपत की तीसरी लड़ाई पर आधारित है, जो 14 जनवरी 1761 को मराठा और अफगान सेनाओं के बीच लड़ी गयी थी। अफगानियों का नेतृत्व अहमद शाह अब्दाली उर्फ़ अहमद शाह दुर्रानी ने किया था और मराठों के सरदार थे सदाशिवराव भाऊ। कुछ सरदारों के साथ छोड़ने की वजह से सदाशिवराव भाऊ के नेतृत्व में ज़ोरदार टक्कर देने के बावजूद मराठा फ़ौज अफगानी सरदारों के भव्य आक्रमण के सामने हार गयी।

संजय दत्त इस फ़िल्म में अब्दाली की भूमिका निभा रहे हैं। नजीब-उद-दौलाह अब्दाली के भारतीय सहयोगियों में से एक था। अर्जुन कपूर मराठा सेनापति सदाशिवराव भाऊ की भूमिका में हैं तथा क्रिती सैनॉन उनकी दूसरी पत्नी पार्वतीबाई की भूमिका अदा कर रही हैं। पार्वतीबाई इस लड़ाई में सदाशिवराव भाऊ के साथ थीं।

Related topics