{ Page-Title / Story-Title }

News Hindi

बदला ट्रेलर – दिमागी खेल में तापसी पन्नू अपनी मासूमियत साबित करने के लिए लड़ रही हैं


स्पॅनिश फ़िल्म कॉन्ट्राटिएम्पो (2017) का यह अधिकृत रीमेक 8 मार्च को प्रदर्शित होने जा रहा है।

Shriram Iyengar

अभिनेता अमिताभ बच्चन को अगर दूसरा करिअर चुनना होता तो वे वकालत चुन सकते थे। अमिताभ फिर एक बार तापसी पन्नू के वकील बनकर सुजॉय घोष की फ़िल्म बदला में आये हैं।

स्पॅनिश थ्रिलर फ़िल्म कॉन्ट्राटिएम्पो की अधिकृत रीमेक बदला के ट्रेलर में हमें अगाथा ख्रिस्ती के नॉवेल जैसी मर्डर मिस्ट्री देखने को मिलती है, जहाँ एक बंद कमरे में खून होता है और फ़िल्म की नायिका पर उसका आरोप लगा हुआ है।

बच्चन के किरदार बादल गुप्ता की भारी आवाज़ में ये ट्रेलर हमें छानबीन के मोड़ पर लेकर चलता है, जहाँ पन्नू के किरदार को इस केस से बचाने के लिए प्रयास हो रहा है।

उसके बाद वो दृश्य आते हैं जब खून हुआ था। पन्नू अपने आप को निर्दोष बता रही हैं और बादल गुप्ता उनकी केस की बारिकियत को ढूंढ रहे हैं।

किसी जिगसॉ पझल की तरह ये दृश्य हमें एक आदमी का खून और दोषी लड़की का एक अपूर्ण चित्र दिखाता है। मगर इन दृश्यों द्वारा हमें इस तफतीश का व्यापक रूप नज़र आता है। जहाँ पन्नू किसी ब्लैकमेलर की तरफ इशारा कर रही हैं वहीं कुछ दृश्य इस तरफ भी इशारा करते हैं के शायद वो उस बंद कमरे में खुद भी खून कर सकती थी।

एक डूबती हुई कार, रुपयों से भरा बैग और एक परिवार, ऐसी चीज़ें इस कहानी का रोमांच और शक्यताओं को और बढाती हैं।

सुजॉय घोषने इससे पूर्व कहानी (2012) जैसी फ़िल्म द्वारा एक जबरदस्त थ्रिलर अनुभव दिया था, जहाँ फ़िल्म के अंत में विलक्षण मोड़ आता है। यहाँ इस रोमांचक, रहस्यमयी ट्रेलरसे वे अपने पुराने शैली में वापस आते दिख रहे हैं।

ट्रेलर में बढ़ रहे रोमांच को धीमी गति से बढ़ रहे संगीत से और भी ग़हरा किया है। पर साथ ही पन्नू के किरदार और उनके संबंधो के बारे में थोड़ी ज़्यादा बातें खोली गयी हैं।

यह ट्रेलर ओरिजिनल स्पॅनिश फ़िल्म के ट्रेलर की शैली की तरह ही रखा गया है, बस यहाँ मुख्य किरदार को पुरुष से स्त्री कर दिया गया है। तेज़ गति से चलने वाले रैपिड कट्स थ्रिलर के अनुभव को और बढ़ा रहे हैं।

अमिताभ बच्चन और तापसी पन्नू के अलावा इस ट्रेलर में मानव कौल और अमृता सिंह भी नज़र आ रहे हैं। उनके किरदारों की बस झलक भर दिख रही है, मगर अमृता सिंह के रहस्यमयी लुक से उनके मर्डर से जुड़ने की आशंका जागती है।

गौरी ख़ाँ, सुनीर खेतरपाल और अक्षय पूरी ने इस फ़िल्म का निर्माण किया है और इसका सह निर्माण किया है गौरव वर्मा ने। फ़िल्म 8 मार्च को प्रदर्शित हो रही है। 

ट्रेलर निचे देखें।

Related topics

Trailer review